अपने आप में परिवर्तन लाये, दूसरों को भी परिवर्तन में जोड़े, तभी सफलता मिलेगी, नई ऊर्जा की आवश्यकता: कमलनाथ


 सेवादल के नवनियुक्त अध्यक्ष रजनीश सिंह का पदभार ग्रहण कार्यक्रम



भोपाल, - मध्यप्रदेश कांग्रेस सेवादल के नवनियुक्त अध्यक्ष रजनीश सिंह के पदभार ग्रहण समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांगे्रस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि आज के सेवादल के कार्यक्रम में आकर मुझे बहुत खुशी मिली,



जिस ऊर्जा की कमी महसूस हो रही थी, वो आज देखने को मिली है। आज के समय में परिवर्तन की आवश्यकता है, पहले 10-20 प्रतिशत लोग ही सोशल मीडिया से जुड़े हुए थे, लेकिन आज 90 प्रतिशत लोग सोशल मीडिया से जुड़े हुए हैं। सेवादल कांगे्रस का एक ऐसा अंग है जो आजादी के पहले और बाद में भी पूरी ताकत और अनुशासन के साथ संघर्ष व आजादी की लड़ाई में कंधे से कंधा मिलाकर चलता है। श्री नाथ ने आज सेवादल के नवनियुक्त अध्यक्ष राजनीश सिंह को पदभार ग्रहण करते समय सेवादल एवं कांगे्रस की रीति-नीति और मार्ग पर चलने की शपथ दिलायी। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि सेवा की भावना से ही देश आगे बढ़ सकता है। आज जब देश में महामारी की स्थिति बनी तब सेवा की भावना हम सबने बढ़ चढ़ देखी। चार माह पहले राशन नहीं बंटता था, लेकिन आज संकटकाल आते ही लोगों ने सेवा की भावना बताते हुए खूब राशन बांटा। परिवर्तन अपने आप में लायें, दूसरों को परिवर्तन से जोड़े तभी हम सफल हो पाएंगे। आप सब की कड़ी मेहनत से 15 साल बाद कांगे्रस की सरकार बनी, 15 महीने में हमने कई जनहितेषी कार्य किये लेकिन भाजपा को यह सहन नहीं हुआ। साजिश व षड्यंत्र रच हमारी जनादेश प्राप्त सरकार को गिरा दिया गया। लोकतंत्र के इतिहास की विश्व की यह पहली घटना है, जिसमें इस प्रकार से खरीद-फरोख्त का खुला खेल खेला गया। मुझे सरकार जाने का दुख नहीं, दुख इस बात का है कि हमने बहुत सारी योजनाएं शुरू की थी, बहुत सारी हम शुरू करना चाहते थे। श्री नाथ ने कहा कि आज मप्र की जनता पर हमें पूरा विश्वास है, मतदाता अब घोषणा की राजनीति मंे फसने वाला नहीं है। उन्होंने सेवादल के पदाधिकारियों से कहा कि 24 सीटों के उपचुनाव के लिए नई ऊर्जा के साथ मैदान में उतरें और सभी जिलों, ब्लाकों में जाएं। मतदाता परिवर्तन चाहता है, वह अब भाजपा की घिनौनी राजनीति को समझ गया है। सेवादल के नवनियुक्त अध्यक्ष रजनीश सिंह ने कहा कि मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे कमलनाथ जी ने शपथ दिलायी। कमलनाथ जी इंदिरा जी के तीसरे पुत्र के रूप में जाने जाते हैं और 40 वर्षों से भी अधिक का उनका राजनैतिक सफर व अनुभव है। उन्होंने कहा कि त्याग, तपस्या, अनुशासन हमें सेवादल ने ही सिखाया है, मैं विश्वास दिलाता हूं कि सेवादल के सिपाहियों और कांगे्रस में समन्वय के साथ पार्टी और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की कसौटी पर खरा उतरने का पूरा प्रयास करूंगा। कांगे्रस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी, राहुल गांधी, कमलनाथ, दिग्विजयसिंह का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पार्टी नेतृत्व ने मुझे जो जिम्मेदारी सौपी हैं मैं पूरी निष्ठा, ईमानदारी और लगन के साथ उसका निर्वहन करूंगा। इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह, पूर्व राष्ट्रीय सेवादल मुख्य संगठक महेन्द्र जोशी, पूर्व मंत्री अरूण यादव, अजयसिंह, एन.पी. प्रजापति, रामेश्वर नीखरा, जीतू पटवारी, पी.सी. शर्मा, उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर, प्रकाश जैन, महामंत्री राजीव सिंह, सचिन यादव, नरेन्द्र सलूजा, राजेन्द्र सिंह, महेन्द्र सिंह चैहान, भूपेन्द्र गुप्ता, मांडवी चैहान, अर्चना जायसवाल, गोविंद गोयल, कैलाश मिश्रा, चंद्रप्रकाश वाजपेयी, दिनेंश पांडे, मोहन झलिया, विभा पटेल सहित सेवादल के पदाधिकारी निहाल अहमद, मुईनउद्दीन, गन्नू तिवारी, रमेश द्विवेदी, प्रतिभा सक्सेना, देवेन्द्र शर्मा, देवसरण चैबे एवं सेवादल के प्रदेश भर के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे। सेवादल महिला विंग की अध्यक्ष राजकुमारी रघुवंशी ने कार्यक्रम का संचालन किया। धर्मेन्द्र भदौरिया ने कार्यक्रम का आभार व्यक्त किया।


Popular posts
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
पाढर अस्पताल में अब होगा आयुष्मान मरीजों का उपचार, पाढ़र अस्पताल का हुआ अनुबंध :- आशीष पेंढारकर 
Image
लेखन सामग्री क्रय करने हेतु पंजीकृत सप्लायर्स से निविदाएं आमंत्रित
पाकिस्तानी पायलटों को अचानक बैन करने लगे कई देश
Image