माई की प्रतिष्ठा तो समस्त जगत में फैली है

श्री गणेशाय नमः आज का नाम है( उ दार कीर्ति )माई की प्रतिष्ठा तो समस्त जगत में फैली है उनकी महिमा अपरंपार है दतिया एक छोटा शहर है वहां माई का वास 1935 से ही हुआ है


फिर भी विश्व भर में ख्याति प्राप्त है .भक्तों के द्वारा ही उनकी प्रसिद्धि व कीर्ति जन जन तक पहुंच रही है व स्थान का मान बढ़ता जा रहा है. भक्तगण तो मंदिर मैं आने को सदैव हीआतुर रहते हैं स्वामी जी के जप प्रताप से दतिया 1 शक्तिपीठ बन गया है वहीं अपार जनसमूह शनिवार को मंदिर में दर्शन के लिए आता है ,दोनों नवरात्रि व अन्य पर्वों पर भी लोगों का ता ता लगा रहता है वह सब जप में संलग्न रहते हैं जय माई की


Popular posts
आदिवासी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्री गंजन सिंग के जयंती पर सम्मान समारोह एवं वक्षारोपण संपन्न सम्मान पन्न
Image
भगवान पार ब्रह्म परमेश्वर,"राम" को छोड़ कर या राम नाम को छोड़ कर किसी अन्य की शरण जाता हैं, वो मानो कि, जड़ को नहीं बल्कि उसकी शाखाओं को,पतो को सींचता हैं, । 
Image
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
18 दिन के महाभारत युद्ध ने* *द्रौपदी की उम्र को* *80 वर्ष जैसा कर दिया था...*
Image