मोदी सरकार ने गरीब और मध्यम वर्ग को दी एक और चोट तीन माह से बंद है एलपीजी पर सब्सिडी रसोई गैस पर सब्सिडी खत्म कर मोदी सरकार ने चूल्हे की आग बुझाई: भूपेन्द्र गुप्ता

सरकार ने सब्सिडी योजना बंद कर दी हैजिस सिलेंडर की बेस प्राइस 420 रूपये हुआ करती थी उसे बालाबाला बढ़ाकर 601 रूपये कर दिया गया है।



भोपाल - गरीबी बेरोजगारी और महामारी से पीड़ित मध्य प्रदेश के 6 करोड़ एलपीजी उपभोक्ताओं पर मोदी सरकार ने एक बड़ा प्रहार किया हैकांग्रेस के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने आश्चर्य व्यक्त किया कि विगत 3 महीनों से एलपीजी हितग्राहियों के खाते में सब्सिडी का पैसा भुगतान नहीं किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि सरकार ने सब्सिडी योजना बंद कर दी हैजिस सिलेंडर की बेस प्राइस 420 रूपये हुआ करती थी उसे बाला-बाला बढ़ाकर 601 रूपये कर दिया गया है।


यह मध्यम वर्ग के ऊपर एक बड़ा आर्थिक हमला है। विदित हो कि मार्च माह में रसोई गैस का दाम 752 रूपये था। जनता को ईंधन खाते में भाजपा चारों तरफ से निचोड़कर मित्रों की कंपनियों को फायदा पहुंचा रही है जिसकी कीमत देश का गरीब और कमजोर वर्ग चुका रहा हैगुप्ता ने आरोप लगाया कि जब आसपास के देशों में ईंधन के दाम घट रहे हैं तब भारत में दामों में तेजी क्या अंबानी को लाभ पहुंचाने की जा रही है सरकार को इसका जबाब देना होगा। गुप्ता ने कहा कि कांग्रेस शीघ्र ही अब रसोई गैस के दामों के खिलाफ भी जनआंदोलन चलायेगी।


Popular posts
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
दैनिक रोजगार के पल समाचार की तरफ से सभी पत्रकार साथियों को विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
भारत- सीमा विवादः भारत की अंतरराष्ट्रीय सीमा, नियंत्रण रेखा और वास्तविक नियंत्रण रेखा - ये तीनों आख़िर हैं क्या?
Image
घुटने टेकना' पहले सजा थी, अब 'घुटने टेके' तो सजा मिल गयी