कोरोना वायरस: दिल्ली में कोरोना वायरस से संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए 10 और इलाक़ों को सील कर दिया गया है


को देखते हुए 10 और इलाक़ों को सील कर दिया गया है दिल्ली में कोरोना वायरस से संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए 10 और इलाकों को सील कर दिया गया है.. इस तरह दिल्ली में कुल सील किए गए इलाकों की संख्या बढ़कर अब 43 हो गई है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आने वाले दिनों में कई और इलाक़ों को सील (कंटेनमेंट ज़ोन) किया जाएगा.


मुख्यमंत्री ने कहा कि सैनिटाइज़ेशन के लिए पीआइ इंडस्ट्रीज़ ने दिल्ली सरकार को 10 हाईटेक जापानी मशीनें दी हैं. एक मशीन 20 हज़ार वर्ग मीटर प्रति घंटे के हिसाब से सैनिटाइज़ करती है. उन्होंने कहा कि पीआइ इंडस्ट्रीज़ का नाम लेना इसलिए ज़रूरी है, क्योंकि इस कंपनी ने सरकार को मुफ्त में मशीनें दी हैं. इसके अलावा दिल्ली जल बोर्ड की 50 मशीनों का भी सैनिटाइज़ेशन में इस्तेमाल किया जाएगा. इस तरह सोमवार से 60 मशीनों के ज़रिए दिल्ली के रेड जोन और हाई रिस्क ज़ोन के अंदर सैनिटाइज़ेशन अभियान शुरू होगा. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने रविवार को कहा कि हॉटस्पॉट इलाकों में सभी की स्क्रीनिंग की जा रही है. जैन ने कहा कि अगर कोई व्यक्ति थोड़ा सा भी बीमार है तो उसकी जाँच की जा रही है.


लॉकडाउन पर फैसला आज 14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन पार्ट-2 कैसा होगा, केंद्र सरकार सोमवार को इस पर से पर्दा उठा सकती है. दिल्ली से प्रकाशित होने वाले अख़बार नवभारत टाइम्स ने इस ख़बर को पहले पन्ने पर छापा है. अख़बार के अनुसार मुमकिन है कि कुछ रियायतों के साथ खुद पीएम इसका ऐलान करें. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि लॉकडाउन बढ़ाना ज़रूरी है, लेकिन किसानों को छूट मिलेगी. यूपी सरकार ने भी किसानों को राहत देने की बात कही है.



दिल्ली-एनसीआर में भूकंप रविवार शाम दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके की ख़बर हर अख़बार में छपी है. कोरोना की दहशत के बीच रविवार शाम दिल्लीएनसीआर में चंद सेकेंड के लिए भूकंप के झटके महसूस किए गए. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के निदेशक (ऑपरेशन) जेएल गौतम के मुताबिक़ उत्तर-पूर्वी दिल्ली का वज़ीराबाद भूकंप का केंद्र था. इसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.5, जबकि गहराई ज़मीन के भीतर आठ किलोमीटर मापी गई. ये झटके शाम 5 बजकर 45 मिनट के आसपास महसूस किए गए. भूकंप के झटके दिल्ली, गाज़ियाबाद, नोएडा और फरीदाबाद में महसूस किए हुए. हालांकि इससे किसी जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है.


14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन में ढील देने की तैयारी दैनिक जागरण ने पहले पन्ने पर अपनी लीड ख़बर में बताया है कि 21 दिनों के लॉकडाउन के बाद कई मामलों में ढील देने की तैयारी है. अख़बार ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है, "मुख्यमंत्रियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग में 'जान भी, जहान भी के नए मंत्र के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को जो संकेत दिया था, सरकार उस दिशा में कदम बढ़ाती नज़र आ रही है." 14 अप्रैल तक के लिए घोषित देशव्यापी लॉकडाउन के ख़त्म होने से पहले ही सरकार उदयोगों के पहिए चलाने को ज़रूरी मंजुरी देने की दिशा में बढ़ रही है. कोरोना के ख़तरे के बीच जहां पूरे देश में आम राय है कि लॉकडाउन बढ़ना चाहिए, वहीं अर्थव्यवस्था पर इसके असर को देखते हुए जाम पड़े औद्योगिक पहिए को धीरे-धीरे चलाने का मत भी बन रहा है. एक दिन पहले कुछ मुख्यमंत्रियों ने शर्तो के साथ चुनिंदा उद्योगों को लॉकडाउन से बाहर लाने की बात कही थी.


 


Popular posts
घुटने टेकना' पहले सजा थी, अब 'घुटने टेके' तो सजा मिल गयी
ग्राम बादलपुर में धान खरीदी केंद्र खुलवाने के लिये बैतूल हरदा सांसद महोदय श्री दुर्गादास उईके जी से चर्चा करते हुए दैनिक रोजगार के पल के प्रधान संपादक दिनेश साहू
Image
कुजू कोयला मंडी में रामगढ़ पुलिस का छापा कैफ संचालक समत दो हिरासत में
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
वर्तमान बैतूल जिले की कोरोना मरीजो की संख्या में ग्रामीण मीडिया के पास प्राप्त आंकड़ों अनुसार-