आख़िरकार अमित शाह को ख़ुद ट्वीट करके इस बारे में जानकारी देनी पड़ी. अमित शाह ने कहा, "मुझे कोई बीमारी नहीं है, मैं बिल्कुल स्वस्थ हूं"


'मेरे स्वास्थ्य की चिंता करने वाले सभी लोगों को मेरा संदेश.' ये ट्वीट भारतीय गृहमंत्री अमित शाह ने शनिवार शाम करीब चार बजे किया. इसके साथ ही उन्होंने ट्विटर पर अपना एक लंबा बयान भी पोस्ट किया. दरअसल पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया पर अमित शाह के स्वास्थ्य के बारे में तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही थीं. कुछ लोग उनके कैंसर से पीड़ित होने की बात कह रहे थे तो कुछ कोरोना संक्रमण का शिकार होने का दावा तक कर रहे थे. इन अफ़वाहों के पीछे शायद गृहमंत्री का कुछ वक़्त तक नज़र न आना था. हालांकि कुछ दिनों पहले प्रधानमंत्री मोदी और अन्य मंत्रियों के साथ बैठक में हिस्सा लेते हुई उनकी तस्वीर सामने आई थी. इसके बावजूद अटकलों का दौर थमा नहीं था.


आख़िरकार अमित शाह को खुद ट्वीट करके इस बारे में जानकारी देनी पड़ी. ट्विटर पर उन्होंने अपना जो बयान जारी किया है, वो कुछ इस तरह है:"पिछले कई दिनों से कुछ मित्रों ने सोशल मीडिया के माध्यम से मेरे स्वास्थ्य के बारे में कई मनगढंत अफ़वाहें फैलाई हैं. यहां तक कि कई लोगों ने मेरी मृत्यु के लिए ट्वीट कर दुआ भी मांगी है. देश इस समय कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से लड़ रहा है और देश के गृहमंत्री के नाते देर रात तक अपने कार्यों में व्यस्त रहने के कारण मैंने इन सब पर ध्यान नहीं दिया. जब यह मेरे संज्ञान में आया तो मैंने सोचा कि सभी लोग अपनी काल्पनिक सोच का आनंद लेते रहें, इसलिए मैंने कोई स्पष्टता नहीं की. परंतु मेरी पार्टी के लाखों कार्यकर्ताओं और शुभचिंतकों ने विगत दो दिनों से काफ़ी चिंता व्यक्त की, उनकी चिंता को मैं नज़रअंदाज़ नहीं कर सकता. इसलिए आज मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि मैं पूर्ण रूप से स्वस्थ हूं और मुझे कोई बीमारी नहीं है. हिंदू मान्यताओं के अनुसार ऐसा मानना है कि इस तरह की अफ़वाह स्वास्थ्य को और अधिक मज़बूत करती हैं. इसलिए मैं ऐसे सभी लोगों से आशा करता हूं कि वो व्यर्थ की बातें छोड़कर मुझे मेरा कार्य करने देंगे और स्वयं भी अपने काम करेंगे. मेरे शुभचिंतकों और पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं का मेरा हालचाल पूछने और मेरी चिंता करने के लिए मैं आभार व्यक्त करता हूं. जिन लोगों ने ये अफवाहें फैलाई हैं उनके प्रति मेरे मन में कोई दुर्भावना या द्वेष नहीं है. आपका भी धन्यवाद." -अमित शाह गृहमंत्री के इस ट्वीट के बाद ट्विटर पर #AmitShah ट्रेंड कर रहा है. लोग ये जानकारी देने के लिए उनका शुक्रिया अदा कर रहे हैं और उनकी लंबी उम्र की कामना कर रहे हैं. झारखंड में बीजेपी के वरिष्ठ नेता रघुबर दास ने लिखा है, "जाको राखे साइयां मार सके ना कोय"


Popular posts
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
पाढर अस्पताल में अब होगा आयुष्मान मरीजों का उपचार, पाढ़र अस्पताल का हुआ अनुबंध :- आशीष पेंढारकर 
Image
लेखन सामग्री क्रय करने हेतु पंजीकृत सप्लायर्स से निविदाएं आमंत्रित
पाकिस्तानी पायलटों को अचानक बैन करने लगे कई देश
Image