कोरोना वायरस के बाद आत्मनिर्भर भारत अभियान क्या भारत को बदल देगा?


भारत के पूर्व विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत उन फ्रंट लाइन देशों में से एक होगा जो 21वीं सदी को बनाने में एक अहम भूमिका निभाएंगे. उनका कहना था कि प्रधानमंत्री की आत्मनिर्भरता की नई पॉलिसी साल 1991 में भारतीय अर्थव्यवस्था के उदारीकरण से भी अधिक अहम घटना है. इसे उन्होंने एक नया सफ़र बताया जिसमें "लीडरशिप है, क़ाबिलियत है और लोगों का जूनून है". एम जे अकबर मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में विदेश राज्य मंत्री थे. वो भारत के बड़े सम्पादकों में से एक रहे हैं. बीबीसी संवाददाता जुबैर अहमद से ख़ास बातचीत में उन्होंने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरे होने पर, इसकी विदेश नीति, कोरोना वायरस की महामारी के बाद की दुनिया में भारत की जगह और भारत के पड़ोसी मुल्कों से रिश्तों जैसे मुद्दों पर रोशनी डाली.


Popular posts
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
भोपाल शहर में जरूरतमंदों के लिए खाने का  इंतजाम करने वाले विभिन्न लोगों के कांटेक्ट नंबर टीम BBM आल भोपाल
रायसेन में डॉ राधाकृष्णन हायर सेकंडरी स्कूल के पास मछली और चिकन के दुकान से होती है गंदगी नगर पालिका प्रशासन को सूचना देने के बाद भी नहीं हुई कोई कार्यवाही
बैतुल के पूर्व विधायक एंव वरिष्ट कांग्रेसी नेता श्री विनोद डागा जी का निधन
Image
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image