लिखा पत्र..... लाॅकडाउन अवधि के दौरान छात्रावासों के किराये की राज्य शासन द्वारा प्रतिपूर्ति की जाये अतिथि विद्वानों को तत्काल व्यवस्था में वापस लिया जाये: जीतू पटवारी

भोपाल -


प्रदेश कांगे्रस मीडिया विभाग के प्रभारी पूर्व मंत्री श्री जीतू पटवारी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान एवं प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा विभाग, मप्र शासन को आज दो अलग-अलग पत्र लिखकर लाॅकडाउन अवधि के दौरान विद्यार्थियों के छात्रावास किराये की प्रतिप्रति किये जाने एवं फाॅलन आउट अतिथि विद्वानों को तत्काल व्यवस्था में वापस लिये जाने का आग्रह किया है। श्री पटवारी ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि प्रदेश के विभिन्न ग्रामीण एवं छोटे शहरों के विद्यार्थी प्रतियोगी परीक्षा एवं उच्च अध्ययन हेतु इंदौर, भोपाल एवं अन्य बड़े शहरों में निजी छात्रावासों में रहते हैं। चूंकि दुनिया में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस फैलने से सभी आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रहे हैं। देश-प्रदेश में लाॅकडाउन होने के कारण सभी गतिविधिया बंद पड़ी हुई हंै। अनेकों विद्यार्थी एवं उनके परिवार के सदस्य लाॅकडाउन अवधि के दौरान छात्रावास किराये के भुगतान को माफ कराने के लिए छात्रावास मालिकों ने संपर्क कर निरंतर गुहार लगा रहे हैं। श्री पटवारी ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि इस विषम परिस्थितियों में विद्यार्थी के हितों को दृष्टिगत रख, छात्रावास किराये की प्रतिपूर्ति राज्य शासन द्वारा करायी जाये ताकि छात्रावास मालिकों का नुकसान न हो और विद्यार्थी व उसके परिवार पर भी आर्थिक बोझ न पड़े। वहीं श्री पटवारी ने एक पत्र उच्च शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव को भी लिखा है जिसमें उन्हें फाॅलन आउट अतिथि विद्वानों को तत्काल व्यवस्था में वापस लिये जाने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि माह 2020 तक करीब 1900 अतिथि विद्वानों की आॅनलाइन च्वाइस फीलिंग हो चुकी थी, दो माह से अधिक का समय बीत जाने के बाद भी उनके ज्वाइनिंग आदेश जारी नहीं हुए, आर्थिक तंगी के कारण वे आये दिन आत्महत्या जैसे कदम उठा रहे हैं। कल 10 जून को भी एक अतिथि विद्वान ने आत्महत्या कर ली। श्री पटवारी ने प्रमुख सचिव को लिखे पत्र में कहा कि फाॅलन आउट अतिथि विद्वानों को मानवीय आधार पर व्यवस्था में लेते हुए उन्हें तत्काल नियुक्ति आदेश जारी किये जाये, साथ ही मार्च 2020 से न्यूनतम मानदेय भुगतान की


Popular posts
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
अपने अस्तित्व व हक के लिए जरूर लड़े भले ही आप कितने भी कमजोर क्यो ना हो ( श्रीमती मोनिका उपाध्याय
Image
छिंदवाड़ा जिले के कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी से निपटने के लिए अभी तक़ निम्न शिक्षकों ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में एक दिन का वेतन देने की घोषणा की है - ठाकुर राजा सिंह राजपूत
तुम भी अपना ख्याल रखना, मैं भी मुस्कुराऊंगी। इस बार जून के महीने में मां, मैं मायके नहीं आ पाऊंगी ( श्रीमती कामिनी परिहार - धार / मध्यप्रदेश)
Image
कोरोना वायरस : भारत में "जून-जुलाई में अपने चरम पर होगा कोरोना- डॉ. रणदीप गुलेरिया."
Image